Please share :
पाठ -1  सर्च  इंजन कैसे कार्य करता है ?
सब से पहले तो हमें यह जानने की आवश्यकता है कि सर्च इंजन क्या है और सर्च इंजन अनुकूलन (SEO) क्या होता है | जैसे कि आप सभी यह जानते है कि गूगल ,याहू ,बिंग  आदि सभी यह सर्च इंजन है जो कि उपयोग कर्ताओं के लिए कार्य करता है और वेब से आपके लिए आपने जो खोज शब्द (keyword )सर्च करते है उसके अनुकूलन वेब पेज आपको दिखाता है|
उदाहरण के तौर पर अगर आप यहा ताजमहल सर्च करते है तो यहा पर ताजमहल एक खोज शब्द है और जो आपको यहा पर लिंक दिखाता है वो एक सर्च इंजन है | उदाहरण के तौर पर आप चित्र में देख सकते है कि ताज महल हमने सर्च कर उसके स्क्रीन शॉट यहा पर लगाया है|
taj
इस पाठ के बाद आप सीख चुके होंगे |
  • वेब पेज कि सरचना
  • सर्च  इंजन का बेसिक ज्ञान
  • सर्च इंजन कैसे कार्य करता है
  • SERP ,CTR ,Bounce Rate
आए शुरू करते है सबसे पहले वेब पेज की सरचना के बारे में !इस के लिए आपको बेसिक HTML  codes का ज्ञान होना अनिवार्य है|
<HTML>
<HEAD>
<TITLE>
 </TITLE><\HEAD>
<BODY>
<\BODY>
 <\HTML>

इस उपरोक्त code  में हम HTML (वेब पेज की सरचना ) के बारे में समझते है ध्यान से देखे कि जो कोड शुरू हुआ है उस को बंद भी किया गया है जैसे <html></html>.इससे यह साफ़ हो रहा है कि उपरोक्त कोड को दो हिस्से में बांटा गया है .जिसमे  एक HEAD  भाग है  दूसरा उसके body part है इसमें जो head भाग है उसका SEo में बहुत ही महत्वपूर्ण योगदान है|

अब निचे दिए कोड को देखते है |

<HTML>
 <TITLE>
 <HEAD> SEO ONLINE TUTORIALS.
 <BODY>
 <p><H1> welcome to epsinfotech <\H1>
 <a href=www.epsinfotech.net> SEO online Training<\a>
 <\P>
 <\BODY>
 <\HTML>

आप ऊपर दिए कोड को कॉपी कर एक वेब पेज बना सकते है 

अब देखते है के सर्च इंजन कैसे कार्य करता है 

आजकल इंटरनेट पर कई सर्च इंजन है जो कार्य कर रहे है .जिनमे गूगल याहू बिंग aol  आदि मुख्य सर्च इंजन है हर सर्च इंजन मुख्य रूप से दो कार्य करता है|

एक है -crawling  (इंटरनेट पर रेंगना )

दूसरा -indexing web page (अनुक्रमण वेब पेज )

सर्च इंजन आपके  वेब पेज को सारा पढ़ता है .इस साडी परिकिरया को क्रॉलिंग (रेंगना ) कहते है.सर्च इंजन आपके वेब पेज के title ,description  मेटा टैग को पढ़ेगा फिर आपको पेज को पढ़ेगा और नतीजे पर पहुंचेगा कि आप के मुख्य खोज शब्द क्या है!आओ इस किर्या को दूसरे नजरिये से देखते है कि अगर आप अपने वेब पेज को सर्च इंजन के अनुकूल बना लेते है तो आप इंटरनेट पर राज कर सकते है वास्तव में यह जटिल लगने वाला कार्य बहुत आसान कार्य है |

कौन कौन खोज नतीजे (Search Results ) पर प्रभाव डालते है 

कम से कम 200 ऐसे कारक है जो खोज नतीजों पर प्रभाव डालते है .अलग अलग खोज इंजन अलग अलग अल्गोरिथम पर कार्य करते है आओ उन में प्रमुख कार्य जानते है कि सर्च इंजन कौन कौन से कारको को ज्यादा देते है|

  • मेटा टैग 
  • खोज शब्द घन्तव 
  • सर्च इंजन अनुरूप  URL 
  • ब्रांड का नाम 
  • डोमेन की आयु 
  • IP ADDRESS 
  • HEADER /FOOTER  वेब पेज के 
  • ALT टैग चित्रो के 

(ऊपर दिए कुछ नए शब्द है जिनका विस्तार अगले पाठ में आएगा |)

SERP क्या है 

SERP का मतलब है सर्च इंजन नतीजे पेज !SERP बहुत महत्वपूर्ण है यह जानने के लिए कि जिस खोज शब्द के लिए आप कार्य कर रहे है उस खोज शब्द पर कार्य करना कठिन है या आसान |SERP को जानना बहुत आसान है इसे जानने के लिए आप गूगल को खोले फिर आप उसमे कुछ भी सर्च करे तो आप उस पर वहा कुछ अंक पढ़ पायेगे जो कि आपको यह बतायेगे कि गूगल के पास इस से मिलते जुलते कितने नतीजे है आसान शब्दों में कहे तो जिसका SERP  ज्यादा होगा उस खोज शब्द पर कार्य करना मुश्किल होगा और जिसका SERP कम होगा उस पर कार्य करना आसान होगा |

CTR क्या है 

CTR का मतलब है  click  through  Rate (क्लिक करने की दर)|CTR सर्च इंजन को आपकी वेबसाइट को अनुक्रमण (index )करने में मदद करता है 

कई ऐसे कारक है जो CTR पर अपना प्रभाव डालते है जैसे कि

  • वेबसाइट के description  मेटा टैग 
  • ब्रांड का नाम 
  • खोज शब्द का मेटा टैग या डोमेन के नाम में होना 

Bounce Rate क्या है (उछाल दर )

अगर कोई आपकी वेबसाइट को सर्च इंजन में सर्च करता है और फिर उसी समय बंद कर देता है तो उसे उछाल दर कहते है 

उदाहरण के तौर पर अगर आप खोज करते है और सर्च इंजन आपको कुछ नतीजे दिखाता है और आप कोई वेबसाइट खोल कर बंद कर देते है तो उसका मतलब उस वेबसाइट /पेज की उछाल दर ज्यादा है जो की 50 % से कम होनी चाहिए!

कौन कौन से कारक उशाल दर को प्रबावित करते है ..

  • एक पेज वेब साइट |
  • वेब पर सही जानकारी का ना होना |
  • वेब पेज का डिज़ाइन |
  • लोगो की पसंद से ना मेल खाना |
  • बहुत भारी वेब पेज(ज्यादा समय लेता हो खुलने में )|
  • सर्वर की स्पीड |
  • गलत जानकरी का होना

आपको क्या पता है किआपके पास केवल 7 second होते है किसी भी उपभोक्ता को इंटरनेट पर प्रभावित करने के लिए ……

 

Please share :
Author

Leave a Reply