twitterfacebookgoogledribbblepinterestvimeoyoutube
Please Note
One Course can change your life Read more

What to do – What Not to Do – SEO Advice


What to do – What Not to Do – SEO Advice
Please share :

What to do – What Not to Do – SEO Advice

EPSinfotech की हमेशा यह कोशिश रहती है कि आप को SEO updates की लगातार Hindi और English भाषा में जानकारी प्रदान करे|

हमारे ब्लाग SEO Experts द्वारा लिखे जाते है हमारे Experts को 10-12 साल का SEO Experience होता है|

कुछ बाते जो आप ध्यान में रखे

अगर आप ब्लागर है तो यह आपका मुख्य उद्देश्य होगा कि आप अपनी वेबसाइट से ज्यादा से ज्यादा पैसा कैसे कमा सके|

1)  कभी भी यह ना सोचे कि गलत Practice के साथ मै अपनी वेबसाइट को अच्छा दे सकता हूँ हमेशा Long term के लिए सोचे क्योंकि सिर्फ एक गलती आपको भारी नुकसान पहुंचा सकती है इसलिए हमेशा Search Engine की Guidelines पर ज्यादा ध्यान दे नाकि गलत तरीको से वेबसाइट को Promote करने में|

2) Hidden Text का इस्तेमाल ना करे यह Penalty का कारण बन सकता है|

3) Meta Tag बहुत Important है| Onpage optimization में यह ध्यान रखे की Title 40%, Description 10% और Content 50% तक Important होता है कोशिश करे की Description और Title कभी भी Repeat ना करे और यह ध्यान में रखे कि आपका Title आपके Content के अनुसार हो|

4) Flash Content का उपयोग ना करे क्योंकि यह ना तो Search Engine Read कर पाता है और ना ही मोबाइल पर खुलता है|

5) कभी Blacklisted Websites के साथ link share ना करे यह Penalty  का मुख्य कारण होता है|

6) केवल Search Engine को ध्यान में रख कर पोस्ट ना डाले अपनी वेबसाइट पर सिर्फ वह ही पोस्ट करे जो Visitors को अच्छा लगे|

7) ज्यादा Heavy Images का इस्तेमाल ना करे क्योंकि यह Loading Time को ज्यादा करता है|

8) Text to Code Ratio का ध्यान रखे आपकी वेबसाइट का Code बहुत ज्यादा नहीं होना चाहिए|

 

What to do क्या करे|

आप अपने ब्लाग या Website का SEO करते समय यह बाते ध्यान में रख सकते है|

1) आपकी पोस्ट बहुत छोटी ना हो और ना ही इतनी बड़ी कि कोई पूरी पोस्ट ना पढ़े|

साधारण तोर पर आपकी पोस्ट 200 से 400 शब्दो की होनी चाहिए|

2) आपकी वेबपेज या ब्लाग पर Disclaimer, Privacy Policy, About us, FAQ, Contact us Page ज़रूर बनाए|

3) आपकी वेबसाइट के सारे पेज User Friendly होने चाहिए भाव यह है कि कोई भी Visitor एक पेज से दूसरे पेज पर आसानी से जा सके|

4) अपनी वेबसाइट के Broken link की समय समय पर जांच करते रहे Google Webmaster Tool की सहायता से भी आप Broken links की जांच कर सकते है|

Please share :
Written by epsinfotech